जनप्रतिनिधियों ने शिक्षकों की लापरवाही को लेकर उठाया था मुद्दा विद्यालय में बच्चों संख्या कम देख बीईओ ने जताई नाराजगी, कारवाई के लिए जिला को लिखेंगे पत्र।

0
673

बगहा/मधुबनी। बगहा अनुमंडल अंतर्गत प्रखंड मधुबनी में हो रहे समीक्षा बैठक में शिक्षकों पर लापरवाही को लेकर आवाज उठाया था जिसको लेकर जांच अभियान चलाया गया। बता दे कि एक तरफ सरकार जहां शिक्षा व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए तमाम तरह के नई योजनाओं को लाकर विभाग को आधुनिक बनाकर गुणवत्ता पुरक शिक्षा देने का प्रयास कर रही है। वही दूसरी तरफ उनके ही विभाग के इन प्रयासों को पतीला लगाने में लगे हुए हैं। ताजा मामला मधुबनी प्रखंड के सिसई पंचायत के सोहगीबरवा स्थित राजकीय उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय का है जहाँ शिक्षकों के समय से नहीं आने पर बच्चे वहां स्कूल के समय खेलते नजर आ रहे थे। पंचायत के मुखिया कृष्णा यादव ने बताया कि सभी शिक्षकों का आपस में समझौता कर एक सप्ताह तीन शिक्षक स्कूल आएगा तो दूसरे सप्ताह दूसरा तीन शिक्षक इसी तरह स्कूल चल रहा है। विद्यालय में मध्यान भोजन भी नहीं बनाया जाता है। प्रखंड मुख्यालय से काफी दूर होने का फायदा उठाते हुए शिक्षक अपनी मनमानी करते हैं। शिक्षकों के मनमानी को लेकर मंगलवार को हुए समीक्षा बैठक में प्रखंड विकास अधिकारी और ब्लॉक प्रमुख से इसकी शिकायत की गई थी। जिसके आलोक में शुक्रवार को प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी सुबोध कुमार के नेतृत्व में विद्यालयों का निरीक्षण किया। इस दौरान विद्यालय में तीन शिक्षक अनुपस्थित मिले। तीन शिक्षक विद्यालय में लेट से पहुंचे, जिस पर बीईओ ने डांट फटकार लगाते हुए शिक्षकों में सुधार लाने की बात कही। उन्होंने अनुपस्थित और देर से पहुंचे शिक्षकों के खिलाफ जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्र लिखते हुए स्पष्टीकरण मांगा है। बीईओ ने बताया की विद्यालय में बच्चों का नामांकन संख्या 169 है। जबकि विद्यालय में उपस्थित छात्रों की संख्या 40 था। विद्यालय में रसोईया भी गायब मिली। बच्चों ने बीईओ से बताया कि मध्यान भोजन नहीं बनाया जाता है। शिक्षकों की लापरवाही के कारण विद्यालय व्यवस्था चरमरा गया है। जिसकी शिकायत जिला में की जाएगी। प्रखंड के सभी विद्यालयों में जांच अभियान चलाते हुए, जांच की जाएगी की स्कूल समय से खुल रहा है या नहीं। शिक्षक उपस्थित हैं या नहीं। स्कूल में शिक्षण का स्तर कैसा है। बच्चों की उपस्थिति कितनी है। ऐसे शिक्षकों के नाम जो महीने में कई दिन स्कूल से गायब रहते हैं। स्कूल में साफ-सफाई की व्यवस्था कैसी है। सब की रिपोर्ट तैयार कर जिला को भेजने की बात कही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here