विरोध की आड़ में आरा के विकास को रोकने की रची जा रही साजिश।

0
476

बिहार/आरा। चंद लोगों द्वारा विरोध की आड़ में आरा के विकास की गति को धीमा करने की साजिश रची जा रही है. यह कहना है आरा संसदीय क्षेत्र के बुद्धिजीवियों का जिन्होंने सोमवार को कुछ छात्रों द्वारा किए गए तथाकथित विरोध की आलोचना करते हुए ये बात कही। स्थानीय लोगों का कहना है कि आरा के विकास को लेकर जो कार्य केंद्रीय मंत्री सह आरा के सांसद आर.के सिंह ने किए हैं वह अभूतपूर्व है. यहां तक कि पिछले 50 – 60 सालों से लंबित योजनाओं को भी आर.के. सिंह के प्रयासों से निष्पादित किया गया है। लोगों ने याद किया कि केंद्रीय विद्युत एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री तथा आरा के सांसद आर.के. सिंह के द्वारा आरा के विकास की दिशा में किए गए कार्य बेहद सराहनीय रहे हैं। बक्सर पटना फोरलेन सड़क और आरा शहर की फोरलेन से कनेक्टिविटी एक ऐसी बड़ी उपलब्धि रही है जिसने आरा के विकास में काफी योगदान दिया है. कोईलवर सोन नदी के ऊपर सिक्स लेन सड़क पुल का निर्माण कई दशकों से लंबित था. कई पीढ़ियां इस पुल के निर्माण की प्रतीक्षा में गुजर गई लेकिन यह कार्य आर.के. सिंह की पहल पर हो सका। आरा में इंजीनियरिंग कॉलेज का निर्माण तथा मेडिकल कॉलेज के निर्माण की स्वीकृति को भी आरके सिंह की बड़ी उपलब्धियों में गिना जाता है. जहां तक यातायात सुविधाओं का सवाल है, आरा रेलवे स्टेशन के लिए नए प्लेटफार्म का निर्माण तथा आरा से सासाराम और आरा से पटना के लिए स्पेशल मेमू ट्रेनों का परिचालन आर.के. सिंह के प्रयासों से ही संभव हो सका है। स्थानीय लोगों का कहना है कि विक्रमशिला, कुंभ, संपूर्ण क्रांति सहित कई सुपरफास्ट ट्रेनों का आरा स्टेशन पर ठहराव, पूर्वी रेलवे गुमटी पर नए रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण, कायम नगर से आरा जीरोमाइल तक फोरलेन सड़क का निर्माण सहित कई बड़े-बड़े विकास कार्यों को धरातल पर उतारने के बाद आरा के रमना मैदान का जीर्णोद्धार व सौंदर्यीकरण का कार्य भी शुरू हो गया है जिससे आरा शहर के कायाकल्प में मदद मिलेगी। लोगों का कहना है कि कई जगहों से विकास संबंधी फंड लाकर आरके सिंह के प्रयास से आरा क्षेत्र में विकास कार्यों को संपादित कराया गया जिससे आरा की तस्वीर आमूलचूल बदली है तथा यहां विकास कार्यों को काफी गति मिली है आर. के सिंह ऐसे सांसद हैं जो अपनी कार्यक्षमता के लिए पूरे देश भर में जाने जाते हैं और अपनी तमाम व्यस्तता के बावजूद प्रत्येक शनिवार और रविवार को क्षेत्र में समय देते हुए आम लोगों की पीड़ाओं को न केवल सुनते हैं बल्कि उन्हें दूर भी करते हैं. केंद्रीय ऊर्जा मंत्री के रूप में उन्होंने जो कार्य किए हैं उसे भारत आज ऊर्जा के उत्पादन तथा वितरण के क्षेत्र में विश्व शक्ति बन चुका है. स्थानीय लोगों का कहना है कि सांसद के इन कार्यों से उनकी स्वीकार्यता समाज के सभी वर्गों में है। सांसद के वर्तमान दौरे के क्रम में नेहरू युवा केंद्र भोजपुर द्वारा जैन कॉलेज प्रांगण में आयोजित भारत की जी 20 की अध्यक्षता थीम पर आधारित जिला स्तरीय पड़ोस युवा संसद कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में आरके सिंह के द्वारा भारत के हरित ऊर्जा क्षेत्र सहित सभी प्रमुख अंतरराष्ट्रीय पटल पर निभाई जा रही अग्रणी भूमिका पर जिस प्रकार से विस्तार से चर्चा की गयी उसका युवाओं तथा उपस्थित छात्रों ने गर्मजोशी से अभिनंदन भी किया लेकिन स्थानीय जिलाधकारी के द्वारा फोन नहीं उठाए जाने तथा स्थानीय राज्य सरकार की कार्यशैली से नाराजगी के नाम पर सांसद के सामने चंद लोगों के द्वारा जिस तरह का विरोध किया गया वह आरा के विकास को रोकने की एक साजिश के अतिरिक्त कुछ नहीं है. हालांकि सांसद ने छात्र नेताओं से सहानुभूति पूर्वक बात करते हुए आश्वासन दिया कि जिलाधिकारी आरा इस संबंध में छात्रों से बात करेंगे. सांसद ने सरकार से भी छात्रों की समस्याओं के बारे में बात करने का आश्वासन दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here