डीएम ने किया मझौलिया प्रखंड, अंचल एवं स्वास्थ्य केंद्र का औचक निरीक्षण, कई कर्मचारी रहे अनुपस्थित।

0
1397

मझौलिया से राजू शर्मा की रिपोर्ट…..

बेतिया/मझौलिया। जिलाधिकारी पश्चिम चंपारण दिनेश कुमार राय द्वारा प्रखंड ,अंचल आरटीपीएस कार्यालयों सहित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का औचक निरीक्षण किया गया।अंचल कार्यालय में निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने अंचल कर्मियों को कड़ी फटकार लगाया। इसके बाद डीएम ने आरटीपीएस कार्यालय का निरीक्षण किया जिसमें मात्र 1 कर्मी उपस्थित पाए गए। प्रखंड कार्यालय का निरीक्षण करते हुए उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए बाढ़ की तैयारी की समीक्षा बैठक की।उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष आई बाढ़ में उपयोग की नावो की राशि का भुगतान किया जा चुका है। समीक्षा बैठक में डीडीसी अनिल कुमार एसडीएम बिनोद कुमार एडीएम राजीव कुमार आदि पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के दौरान उन्होंने बाढ़ से बचाव के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिया। तदुपरांत जिलाधिकारी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया तथा चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर ओम प्रकाश से आवश्यक पूछताछ करते हुए ओपीडी, प्रसव कक्ष ,शल्य कक्ष आदि का गहन जांच किया।इस दौरान आशा कार्यकर्ताओं ने पिछले 10 माह से मानदेय भुगतान नहीं होने की शिकायत जिलाधिकारी से की।जिलाधिकारी ने इसके संबंध में चिकित्सा पदाधिकारी को आवश्यक कार्यवाही के लिए आदेश दिया।
बताते चलें कि इस औचक निरीक्षण से प्रखंड और अंचल कार्यालयों में अफरा तफरी का माहौल देखा गया। डीएम के प्रखंड कार्यालय में आते ही दलाल और बिचौलिए भाग खड़े हुए।निरीक्षण के दौरान प्रखंड आपूर्ति कार्यालय, लोहिया स्वच्छता कार्यालय आदि बंद देखे गए तो पंचायती राज पदाधिकारी का भी कक्ष ताला बंद पाया गया। निरीक्षण के दौरान डीडीसी अनिल कुमार, एसडीएम विनोद कुमार, एडीएम राजीव कुमार, प्रखंड विकास पदाधिकारी वरुण केतन, अंचलाधिकारी सूरज कांत, मनरेगा पदाधिकारी नीरज कुमार पांडे, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर ओम प्रकाश ,उप प्रमुख नरेश यादव आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here