बेतिया में माननीय सांसद की अध्यक्षता में जिलास्तरीय समन्वय एवं अनुश्रवण समिति (दिशा) की बैठक सम्पन्न।

0
605

बेतिया। डॉ0 संजय जायसवाल, माननीय सांसद की अध्यक्षता में आज समाहरणालय सभाकक्ष में दिशा (जिलास्तरीय समन्वय एवं अनुश्रवण समिति) की बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक में विगत बैठक की कार्यवाही एवं अनुपालन प्रतिवेदन से माननीय अध्यक्ष महोदय को अवगत कराया गया। माननीय अध्यक्ष, दिशा द्वारा जन-जन का स्वास्थ्य मिशन, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, सर्व शिक्षा अभियान, प्रधानमंत्री पोषण योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, जिला औद्योगिक नवप्रर्वतन योजना, दीनदयाल उपाध्याय-ग्रामीण कौशल योजना, जीविका, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम, स्वच्छ भारत मिशन शहरी/ग्रामीण, कायाकल्प और शहरी परिवर्तन के लिए अटल मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी एवं ग्रामीण), एकीकृत बाल विकास परियोजना, राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम एवं महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत किये जा रहे कार्यों की समीक्षा की गयी। दिशा की बैठक में माननीय जनप्रतिनिधियों द्वारा विद्युत कनेक्शन, सिंचाई हेतु विद्युत कनेक्शन, ग्रामीण सड़क, आवास योजना, सर्वशिक्षा अभियान, शिक्षकों का स्थानांतरण, मनरेगा, सहकारिता, सामुदायिक शौचालय, पंचायत सरकार भवन, स्वास्थ्य, आंगनबाड़ी केन्द्र आदि से संबंधित विषयों पर माननीय अध्यक्ष महोदय का ध्यान आकृष्ट कराया गया।समीक्षा के क्रम में माननीय अध्यक्ष द्वारा कहा गया कि विद्युत बिल में त्रुटि नहीं हो, इसकी व्यवस्था करें। गांवों में अस्पताल भवन के निर्माण हेतु भूमि को अविलंब चिन्हित करें। साथ ही जो जिन स्थलों पर चिन्हित भूमि को अतिक्रमित किया गया है, उसे तुरंत अतिक्रमणमुक्त कराया जाय। सिविल सर्जन अद्यतन स्थिति से संबंधित प्रतिवेदन सभी संबंधित माननीय विधायकगण, विधान पार्षदगण तथा प्रखंड प्रमुख को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे। अमृत योजना की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि जिन स्थलों पर अमृत योजना के तहत जलापूर्ति योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है, उसे अविलंब शत-प्रतिशत पूर्ण करते हुए लाभुकों को जलापूर्ति सुनिश्चित किया जाय। कार्यपालक अभियंता, बुडको अमृत योजना के शत-प्रतिशत क्रियान्वयन में विशेष ध्यान दें। उन्होंने कहा कि एसडीएम की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय टीम का गठन किया जाय जो अमृत योजना के तहत शहरी क्षेत्रों में क्रियान्वित योजनाओं की विधिवत जाँच करेगी तथा प्रतिवेदन उपलब्ध करायेगी। जिलाधिकारी, श्री दिनेश कुमार राय द्वारा माननीय अध्यक्ष, दिशा को आश्वस्त किया गया कि दिशा की बैठक में दिये गये निर्देशों का नियमानुकूल निष्पादन त्वरित गति से कराया जायेगा। जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि 01 जून से 07 जून तक बाढ़ सुरक्षा सप्ताह मनाया जा रहा है। इसके तहत लोगों को बाढ़ से बचाव हेतु क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए, के संदर्भ में जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने उपस्थित सभी माननीय जनप्रतिनिधिगणों से अनुरोध किया कि अपने स्तर से आमजनों को बाढ़ सुरक्षा हेतु जागरूक किया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि जिले के विकास में माननीय जनप्रतिनिधियों का अपेक्षित सहयोग मिलता रहा है, इसी प्रकार आगे भी सहयोग अपेक्षित है। उन्होने कहा कि जनप्रतिनिधियों की समस्याओं/शिकायतों को संज्ञान में लेते हुए त्वरित गति से नियमानुकूल समाधान कराया जा रहा है। विभिन्न आपदा की स्थिति में जनप्रतिनिधियों का सहयोग मिला है, जो सराहनीय है। उन्होंने कहा कि जिले को और अधिक तीव्र गति से विकसित करने में माननीय जनप्रतिनिधिगणों का सहयोग मिलता रहे। इस अवसर पर माननीय राज्यसभा सांसद, श्री सतीश चन्द्र दूबे, माननीय विधायक, श्रीमती रेणु देवी, श्रीमती भागीरथी देवी, श्री विरेन्द्र प्रसाद गुप्ता, श्री उमाकांत सिंह, श्री विनय बिहारी, श्री राम सिंह, धीरेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ रिंकू सिंह, माननीय विधान पार्षद, श्री भीष्म सहनी, श्री विरेन्द्र नारायण यादव, श्री सौरभ कुमार, श्री अफाक अहमद, प्रखंडों के प्रमुखगण, मुखियागण सहित उप विकास आयुक्त, श्री अनिल कुमार, सहायक समाहर्ता, सुश्री शिवाक्षी दीक्षित, अपर समाहर्ता, श्री राजीव कुमार सिंह, श्री अनिल राय सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here