अपनी मांगों के समर्थन में बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ मझौलिया इकाई द्वारा प्रखंड मुख्यालय पर किया एक दिवसीय धरना कार्यक्रम।

0
489

मझौलिया से राजू शर्मा की रिपोर्ट…

बेतिया/मझौलिया। बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के निर्णय अनुसार प्रखंड मुख्यालय पर शिक्षा एवं शिक्षक हित के 8 सूत्री मांगों की पूर्ति के लिए शिक्षकों ने काला बिल्ला लगाकर एक दिवसीय धरना कार्यक्रम दिया ।जिसमें जिला सचिव नरवोदय ठाकुर ने कहा कि बिहार सरकार शिक्षकों की मांगों को अभिलंब पूरी करें। राज्य कर्मी का दर्जा दे तथा पुरानी पेंशन प्रणाली लागू करें अन्यथा बाध्य होकर शिक्षक संघ वृहद आंदोलन पर उतारू होगा जिसकी सारी जवाबदेही राज्य सरकार की होगी। अध्यक्ष जितेंद्र नाथ सचिव प्रदीप कुमार पांडे ने कहा कि शिक्षक समाज का निर्माता होता है। राज्य सरकार शिक्षकों के साथ भेदभाव कर रही है। 8 सूत्री मांगों में बिना किसी परीक्षा के स्थानीय निकाय द्वारा नियुक्त सभी शिक्षकों को राज्य कर्मी का दर्जा दिया देने पुरानी पेंशन योजना का लाभ देने एमएससीटी तथा वित्तीय उन्नयन का लाभ देने अनुकंपा का लाभ देते हुए आश्रितों को नौकरी देने केंद्र के अनुरूप डीए देने परिवहन भत्ता का लाभ देने छठे वेतन आयोग की अनुशंसा को लागू करने वरीयता सूची बनाकर शिक्षकों को प्रोन्नति देने आदि शामिल हैं। शिक्षक संघ का कहना है कि सभी मांगों की पूर्ति शीघ्र किया जाए अन्यथा राज्य संघ के निर्णय अनुसार आंदोलन को और तीव्र किया जाएगा ।जिस से होने वाले नुकसान के लिए सरकार खुद जिम्मेदार होगी। इस धरना कार्यक्रम में मनोज कुमार , हसनैन अंसारी, आदित्य नारायण , रमेश कुमार, गेना लाल शर्मा, राजेश साह, रणविजय शर्मा, दिलीप श्रीवास्तव, नागेंद्र कुमार, अनिल कुमार सिंह, शमशेर आलम, प्रदीप कुमार, अकमल हुसैन, भुवन भास्कर, सुमन कुमारी, रेनू कुमारी, एडमिन साइमन आदि शिक्षक शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here