लकड़ी जप्त करने गए वन कर्मियों पर जान लेवा हमला, एक वनकर्मी जख्मी।

0
691

बगहा। वाल्मीकि टाइगर रिजर्व के मदनपुर वन क्षेत्र में छापेमारी करने गए वन कर्मियों की टीम पर ग्रामीणों ने हमला बोल दिया। जिसमें एक वनकर्मी जख्मी हो गया है और गोरखपुर में इलाजरत है। ग्रामीणों के हमले का एक विडियो तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें ग्रामीण काफी आक्रामक नजर आ रहे हैं जबकि वनकर्मी बीच-बचाव करते नजर आ रहे हैं। मामले में मदनपुर वन क्षेत्र के काटी उपखंड के वनरक्षी गौरी शंकर दुबे ने लौकरिया थाना में आवेदन देकर चार नामजद और चार-पांच अन्य पर के विरूद्ध आवेदन दिया है। थाना में दिए गए आवेदन के अनुसार मंगलवार के दोपहर टेंपो लगाकर रुदल बिन और उसके सहयोगी लकड़ी काट रहे थे। इसी दौरान दो वन कर्मी उक्त स्थल पर पहुंचकर इसका विरोध करते हुए इसकी सूचना वरीय अधिकारियों को देने का प्रयास किया तो इस दौरान रुदल टेंपो लेकर भागने लगा। इसकी सूचना आगे अन्य वन कर्मियों को दी गई। सूचना पर पहुंचे वन कर्मी छापेमारी के लिए जैसे ही उसके घर गए रुदल के परिजन लाठी-डंडे के साथ वन कर्मियों पर हमला बोल दिया। इस दौरान एक वन कर्मी गंभीर रूप से घायल हो गया और उसके हाथ की हड्डी टूट गई है। जिसे इलाज के लिए गोरखपुर भेजा गया है। इस घटना में आधा दर्जन वनरक्षी, वनपाल, औनवनियुक्त रेंजर व वनकर्मी घायल हो गए है। इधर वन विभाग के तरफ से लौकरिया थाना में आवेदन देकर एफआईआर दर्ज कराया जा रहा है। जिसमें रुदल बीन, उसके पिता राजेंद्र बीन, उसकी पत्नी मीरा देवी तथा उसकी माता सहित अन्य पड़ोसियों व संबंधियों पर मारपीट का आरोप लगाई गई है। वही इस घटना का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। जिसमें कुछ ग्रामीण लाठी डंडा लेकर वन कर्मियों से उलझते नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही भद्दी भद्दी गालियां भी दे रहे हैं। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई है। मदनपुर वन क्षेत्र से भारी मात्रा में जलावन की लकड़ी काटकर स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा शहर में पहुंचाने का काम किया जाता है। जिससे वन विभाग का एक बड़ा भूभाग प्रभावित हो रहा है। वनरक्षी गौरीशंकर दुबे ने उपरोक्त जानकारी देते हुए बताया कि वन विभाग की टीम जब जब इस क्षेत्र में लकड़ी के पतन को रोकने गई है उन पर ग्रामीणों के द्वारा हमला कर दिया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here