कार्य के प्रति लापरवाही, उदासीनता एवं स्वेच्छाचारिता को लेकर जिला परिवहन पदाधिकारी को किया शोकॉज।

0
419

बेतिया। जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार की अध्यक्षता में भू-राजस्व एवं राजस्व संग्रहण (आंतरिक संसाधन) तथा अन्य महत्वपूर्ण मामलों यथा-सीसीटीवी कैमरा अधिष्ठापन, आपदा प्रबंधन, लोक शिकायत, आरटीपीएस, जाति आधारित गणना, खनन आदि से संबंधित विषयों पर महत्वपूर्ण बैठक सम्पन्न हुयी। राजस्व संग्रहण (आंतरिक संसाधन) की समीक्षा के क्रम में जिला परिवहन पदाधिकारी, पश्चिम चम्पारण द्वारा राजस्व वसूली सहित अन्य कार्यों में घोर लापरवाही, उदासीनता एवं स्वेच्छाचारिता का मामला प्रकाश में आया। समीक्षा के क्रम में पाया गया कि जिला परिहवन पदाधिकारी द्वारा लक्ष्य के अनुरूप राजस्व की प्राप्ति में अभिरूचि नहीं दिखायी गयी, जिसके फलस्वरूप राजस्व प्राप्ति काफी कम है, असंतोषजनक है। साथ ही बार-बार निर्देश के बावजूद ओवरलोडेड वाहन, बस मालिकों द्वारा निर्धारित भाड़ा से अधिक की वसूली आदि समस्याओं का निराकरण भी इनके द्वारा नहीं किया गया है। ज्ञातव्य हो कि जिला प्रशासन को विभिन्न स्रोतों से ओवरलोडिंग, बस मालिकों द्वारा मनमाना राशि वसूलना, जिला परिवहन कार्यालय की कार्यशैली आदि से संबंधित लगातार शिकातये प्राप्त हो रही थी। उक्त समस्याओं का त्वरित गति से समाधान करने हेतु जिलाधिकारी, पश्चिम चम्पारण द्वारा जिला परिवहन पदाधिकारी को बारंबार निर्देशित किया जाता रहा है। इसके बावजूद जिला परिवहन पदाधिकारी एवं जिला परिवहन कार्यालय की कार्यशैली में सुधार नहीं हुआ है। जिलाधिकारी द्वारा इसे गंभीरता से लेते हुए जिला परिवहन पदाधिकारी, पश्चिम चम्पारण को शोकॉज किया गया है कि क्यों नहीं अनुशासनात्मक कार्रवाई करने हेतु विभाग को प्रतिवेदित कर दिया जाय। जिलाधिकारी द्वारा जिला परिवहन पदाधिकारी को सख्त हिदायत दिया गया कि कार्यशैली में सुधार लाते हुए राजस्व वसूली में तेजी लाएं। साथ ही ओवरलोडिंग वाहनों के विरूद्ध लगातार छापेमारी अभियान चलाना सुनिश्चित किया जाय। बस मालिकों द्वारा अधिक और मनमाना भाड़ा वसूलने के विरूद्ध नियमानुकूल सख्त कार्रवाई की जाय।इ स अवसर पर उप विकास आयुक्त, श्री अनिल कुमार, अपर समाहर्ता, श्री राजीव कुमार सिंह, वरीय उप समाहर्ता, श्री रवि प्रकाश सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here