गंढ़क पार में अवैध नर्सिंग होम संचालको में मचा हड़कंप, मधुबनी पीएचसी प्रभारी के नेतृत्व में हुई छापेमारी

0
663

मधुबनी से सफरुद्दीन अंसारी की रिपोर्ट…..

बगहा/मधुबनी। बगहा अनुमंडल अंतर्गत मधुबनी प्रखंड के बिभिन्न जगहों पर अवैध नर्सिंग होम के संचालकों में पूरी तरह से अफरा-तफरी का माहौल बन गया जैसे ही पता चला कि अवैध नर्सिंग होम पर छापेमारी चल रही है वैसे ही अवैध नर्सिंग होम के संचालक सीएचसी प्रभारी के द्वारा किए जा रहे जांच से बेचैन रहे। मंगलवार को मधुबनी प्रखंड के मीटिंग हॉल में प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं प्रखंड प्रमुख के द्वारा बुलाए गए समीक्षात्मक बैठक में गंडक पार में चल रहे अवैध नर्सिंग होम के बीच काफी गहमागहमी का मुद्दा छाया रहा। सांसद प्रतिनिधि जितेंद्र गुप्ता ने गंडक पार में चल रहे अवैध नर्सिंग होम के मुद्दे को उठाते हुए कहा कि आज गंडक पार में चलाए जा रहे नर्सिंग होम के संचालकों के द्वारा गरीब एवं असहाय लोगों को पूरी तरह से लूटा जा रहा है, एवं कई ऐसी नर्सिंग होम है। जहां अवैध रूप से किए जा रहे ऑपरेशन में घटना भी घट रही है। उन्होंने कहा कि अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा अनुमंडल क्षेत्र में नर्सिंग होम पर लगाम लगाने के लिए कई जगह छापेमारी की गई थी। जिसके आलोक में अनुमंडल क्षेत्र में कई जगह नर्सिंग होम सील कर दिए गए हैं। सांसद प्रतिनिधि एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी मधुबनी के द्वारा पीएचसी प्रभारी को यह निर्देश दिया गया कि वे हर हाल में गंडक पार में चल रहे नर्सिंग होम के ऊपर कार्रवाई करें। उस पर लगाम लगाएं सीएचसी प्रभारी ने बैठक में वहां उपस्थित जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों को आश्वासन दिया था, कि मधुबनी में चल रहे अवैध नर्सिंग होम में पूरी तरह से रोक लगाएंगे। इसकी जानकारी जिला चिकित्सापदाधिकारी और अनुमंडल पदाधिकारी को देगें। अवैध नर्सिंग होम पर छापेमारी की खबर जैसे ही संचालकों के पास पहुंची सभी लोग अपने अपने अस्पताल को बंद कर फरार हो गए। हालांकि इस कार्रवाई में किसी भी अवैध नर्सिंग होम संचालक व डॉक्टर को नहीं पकड़ा गया। हालांकि शिवम हेल्थ केयर और अभिनंदन हॉस्पिटल मरिचहवा में छापेमारी के दौरान ऑक्सीजन सिलेंडर, ऑपरेशन टेबल और इमरजेंसी दवाईयां भी मिली। छापेमारी के दौरान मौके से कहीं भी अवैध नर्सिंग होम के संचालक एवं डॉक्टर नहीं मिले। ज्ञात हो कि गंडक पार के मधुबनी प्रखंड में लगभग दो दर्जन से अधिक अवैध नर्सिंग होम चलते हैं। लेकिन इन पर कोई कार्रवाई नहीं हो पाती है। सीएचसी प्रभारी डॉ आनंद कुमार ने बताया कि अब समय-समय पर अवैध नर्सिंग होम पर छापेमारी की जाएगी एवं गंडक पार में चलाए जा रहे अवैध नर्सिंग होम के संचालक एवं डॉक्टरों पर कार्रवाई के लिए वरीय पदाधिकारियों को लिखा जाएगा। उन्होंने कहा कि सभी नर्सिंग होम को निर्देश दिया गया है की जरूरी कागजात जमा करें। जो नर्सिंग होम अवैध पाए गए उन पर प्राथमिकी दर्ज कराकर उन्हें बंद करने का कार्य किया जाएगा। जांच टीम में मुख्य रूप से सीएचसी के डॉ नासिर हुसैन, डॉ कृष्ण कुमार और थाना के पुलिस पदाधिकारी सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here