वाल्मीकिनगर वीटीआर में भालू की मौत की घटना फिर एक बार क्षेत्र में सनसनी फैला दी।

0
563

बगहा/वाल्मीकिनगर। वाल्मीकिनगर वीटीआर वन प्रमंडल 2 के गनौली वन क्षेत्र में एक बार फिर भालू की मौत की घटना फिर एक बार सनसनी फैला दी है। गनौली वन क्षेत्र कक्ष संख्या टी 20 के बनकटवा जंगल में एक वृद्ध भालू की मौत की सूचना से एक बार फिर वन विभाग में हड़कंप का माहौल कायम हो गया है। सूचना पर वन कर्मियों की टीम डीएफओ डॉक्टर नीरज नारायण के नेतृत्व में घटनास्थल पर पहुंचकर मृत भालू के शव को अपने कब्जे में ले लिया। इस बाबत पूछे जाने पर डीएफओ डॉ नीरज नारायण ने बताया कि घटनास्थल से कोई भी संदेहास्पद वस्तु की बरामदगी नहीं हुई है प्रथम दृष्टया भालू शरीर से काफी कमजोर दिख रहा है प्राकृतिक कारणों से इसकी मौत की संभावना प्रतीत होती है। वही वन संरक्षक डॉक्टर नेशामणि ने बताया कि भालू व्यस्क है और व्यस्क होने के बाद वन्यजीवों की प्राकृतिक मौत होती है। भालू की मौत प्रथम दृष्टया काफी व्यस्क होने के कारण प्राकृतिक प्रतीत हो रही है वन विभाग के विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम के द्वारा भालू के शव का पोस्टमार्टम किया जा रहा है इसके बिसरे की जांच के लिए देहरादून और बरेली भेजा जा रहा है जांच रिपोर्ट से मौत के वास्तविक कारणों का खुलासा हो पाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here