छात्रों ने शिक्षक के रवैये से परेशान होकर सड़क पर किया आगजनी।

0
590

मझौलिया से राजू शर्मा की रिपोर्ट….

बेतिया/मझौलिया। मझौलिया प्रखंड अंतर्गत राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय बखरिया के छात्रों ने उच्च विद्यालय में पठन-पाठन नहीं होने साथ ही शिक्षक द्वारा गाली गलौज करने, शिक्षकों की लेट लतीफी तथा मनमानी शुल्क वसूलने को लेकर मझौलिया परसा सड़क पर आगजनी कर शिक्षकों के बिरुद्ध विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान विद्यालय में पठन-पाठन एवं आवागमन घंटो बाधित रहा। सूचना पाकर मुखिया प्रतिनिधि एकबाली राम सरपंच पति पूरण दास सहित थाना अध्यक्ष अभय कुमार दल बल के साथ विद्यालय में पहुंच कर आक्रोशित छात्रों को शांत कराया। छात्रों का आरोप है कि उच्च विद्यालय में शिक्षकों के अभाव के कारण पठन पाठन नहीं होता है। तथा शिक्षक पढ़ाने में दिलचस्पी नहीं रखते। शिक्षकों का विद्यालय में लेट लतीफी आना आम बात है। पूछने पर शिक्षक गाली गलौज पर उतर आते हैं। छात्रों ने प्रभारी प्रधानाध्यापक अरुण कुमार साह पर मनमाना शुल्क वसूलने तथा छात्रों के साथ दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया है। वहीं छात्रों का कहना है कि प्रधानाध्यापक द्वारा सरकार प्रदत परिभ्रमण राशि को लौटा देने की धमकी दी जाती है। मुखिया प्रतिनिधि एकबाली राम ने कहा की बच्चों द्वारा सूचना मिली है कि विद्यालय में बच्चों के साथ दुर्व्यवहार किया जाता है। अधिक राशि वसूली जाती है तथा बच्चों को धमकाया जाता है।

सरपंच पति पूरण दास ने बताया कि विद्यालय में काफी अनियमितता है। पठन-पाठन काफी दयनीय स्थिति में है। छात्रों का भविष्य चौपट हो रहा है। आक्रोशित छात्रों को शांत कराते हुए थानाध्यक्ष अभय कुमार ने कहा कि शिक्षक राष्ट्र निर्माता होते हैं ।देश का भविष्य तैयार करते हैं। छात्रों में संस्कार और अनुशासन डालते हैं। लेकिन छात्रों का कहना है कि शिक्षक गाली गलौज करते हैं धमकी देते हैं तथा लेट लतीफ आते हैं और अधिक राशि वसूलते हैं। यह न्यायोचित नहीं है। उन्होंने बच्चों को शांत कराते हुए कहा कि देश का भविष्य आप लोगों पर टिका हुआ है। छात्रों को अनुशासन कर्तव्य पालन और पठन-पाठन पर ध्यान देने की जरूरत है। इस बाबत प्रभारी प्रधानाध्यापक अरुण कुमार साह ने बताया कि शिक्षकों के प्रति नियुक्ति हो जाने के कारण विद्यालय में पठन-पाठन में कमी आई है। लेकिन कुछ शिक्षक ऐसे हैं जो बराबर लेट लतीफ आते हैं जिसको लेकर यह समस्या उत्पन्न हुई है। छात्रों द्वारा मेरे ऊपर लगाए गए आरोप निराधार है।इस संदर्भ में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी उमेश कुमार का कहना है कि जांच कर उचित कार्यवाही की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here