गणतंत्र दिवस के अवसर पर तिरंगे को सलामी देने के बाद हुआ ज्ञान की देवी मां सरस्वती की पूजन।

0
516

मझौलिया से राजू शर्मा की रिपोर्ट ।।

बेतिया/मझौलिया। हर वर्ष 26 जनवरी का दिन भारत में गणतंत्र दिवस के तौर पर मनाया जाता है। आज देश अपना 74 वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। दरअसल 26 जनवरी 1950 को भारतीय संविधान लागू किया गया था भारत को पूर्ण गणतंत्र घोषित किया गया इसी वजह से हर साल 26 जनवरी का दिन राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस के तौर पर मनाया जाता है। 74 वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों में धूमधाम से गणतंत्र दिवस मनाया गया। मझौलिया प्रखंड मुख्यालय में प्रखंड प्रमुख शुक्ता मुखी द्वारा झंडोत्तोलन करते हुए तिरंगे को सलामी दी गई ।अंचल में अंचलाधिकारी सूरज कांत मनरेगा में कार्यक्रम पदाधिकारी नीरज कुमार पांडे थाना परिसर में थाना अध्यक्ष अभय कुमार महादलित बस्ती प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सहित अन्य जगहों पर झंडोत्तोलन करते झंडे को सलामी दी गई और धूमधाम से गणतंत्र दिवस मनाया गया । वही मझौलिया प्रखंड क्षेत्र के सभी पंचायत भवन में संबंधित पंचायत के मुखिया द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराकर राष्ट्रगान के साथ झंडे को सलामी दी गई। गौरतलब हो
कि तिरंगे को सलामी देने के बाद ज्ञान और संगीत की देवी माता सरस्वती की पूजा हर साल माघ मास की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को बसंत पंचमी के तौर पर मनाया जाता है मान्यता है । आज 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के साथ बसंत पंचमी का त्यौहार एक साथ दोहरी खुशी देखने को मिली । इस मौके पर प्रखंड विकास पदाधिकारी वरुण केतन प्रखंड उपप्रमुख नरेश यादव मुखिया संघ के अध्यक्ष सत्यप्रकाश प्रमुख प्रतिनिधि मंटू कुशवाहा समाजसेवी एकबाली राम शिशु रोग विशेषज्ञ डॉक्टर आर. कुमार अंचल निरीक्षक राधेश्याम यादव
सहित अन्य लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here