बैंक मैनेजर की सड़क दुर्घटना में हुई मौत, छः माह पूर्व हुई थी शादी,

0
2872

तेज रफ्तार की कहर ने एक हँसती खेलती जिन्दी को उजाड़ कर रख दी। जिसने अभी अपने जीवन की उन खुशियों के सपने संजोये थे जो 100 किलोमीटर दूर अपने परिवार के भरण पोषण के लिए निकला ही था कि चौतरवा थाना के NH 727 के कोर्ट माई स्थान के समीप टेंपो व बाइक की आमने सामने टक्कर हो गई जिसमें बाइक सवार को गंभीर चोटें आई जिसे चौतरवा थाना की पुलिस ने अपना फर्ज निभाते हुए इलाज के लिए बगहा अनुमंडलीय अस्पताल में भेज दिया डॉक्टरों ने जांच के उपरांत गंभीर स्थिति को देखते हुए बेतिया के लिए रेफर कर दिया, घायल को बेतिया ले जाने के दौरान रास्ते में ही दम तोड़ दिया। बता दे कि सोमवार की सुबह टेंपो और बाइक की आमने सामने टक्कर हो गई, टक्कर इतनी जोरदार थी कि आसपास के लोग दौड़ते हुए घटनास्थल पर पहुंचे। स्थानीय लोगों के द्वारा इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही चौतरवा थाना पुलिस मौके पर पहुंचकर घायल बाइक सवार को इलाज के लिए अनुमंडलीय अस्पताल में लाई। अस्पताल में कार्यरत डॉक्टर के.बी.एन. सिंह ने घायल बाइक सवार का प्रथमिक उपचार किया। स्थिति गंभीर देखते हुए उसे बेहतर इलाज के लिए बेतिया रेफर कर दिया। जहां इलाज के क्रम में सोमवार की देर शाम युवक की मौत हो गई। मृत युवक की पहचान चकिया थाना क्षेत्र के कल्याणपुर गांव निवासी स्व0 विश्वनाथ साह के पुत्र मनीष कुमार (37) के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि 6 माह पूर्व इनकी शादी हुई थी।मनीष चौतरवा के एक माइक्रो फाइनेंस कंपनी RBL में ब्रांच मैनेजर के पद पर काम करते थे। शनिवार की शाम वह अपने घर चले गए। रविवार की छुट्टी होने के कारण सोमवार को सुबह घर से वापस आ रहे थे। तभी यह हादसा हुआ है। परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। बताया जा रहा है कि मनीष अपने मां-बाप के इकलौते संतान थे। फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। GMCH में पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को शव सौंप दी जाएगी। इस मामले में चौतरवा थाना अध्यक्ष सुरेश यादव ने बताया कि सुबह सड़क हादसा ने एक युवक गंभीर रूप से जख्मी हुआ था जिसे अनुमंडलीय अस्पताल बगहा पहुंचा दिया गया था। जहां से बेहतर इलाज के लिए जीएमसीएच बेतिया रेफर किया गया था। सूचना के मुताबिक इलाज के दौरान मौत होने की सूचना मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here