01 से 07 जून तक मनाया जा रहा है बाढ़ सुरक्षा सप्ताह। बाढ़ सुरक्षा सप्ताह के तहत जिले में विभिन्न जन जागरूकता कार्यक्रमों का होगा आयोजन।

0
490

बेतिया। बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण एवं जिलाधिकारी, पश्चिम चम्पारण के निर्देश के आलोक में जिले में दिनांक-01.06.2023 से 07.06.2023 तक बाढ़ सुरक्षा सप्ताह मनाया जा रहा है। बाढ़ सुरक्षा सप्ताह के तहत जिले में विभिन्न जन जागरूकता कार्यक्रमों सहित बैठक, सर्वेक्षण, निबंधन, बाढ़ पूर्व तैयारी चेकलिस्ट के आधार पर तैयारी, मॉकड्रिल, डेंजर लेवल को चिन्हित कर इंडिकेटर का अधिष्ठापन, बाढ़ राहत केन्द्र, ऊंचे स्थानों तथा संवेदनशील समूहों की पहचान, जनजागरूकता हेतु होर्डिंग्स, फ्लेक्स का अधिष्ठापन, दिवाल लेखन आदि कार्यक्रमों का आयोजन किया जाना है। जिलाधिकारी, श्री दिनेश कुमार राय द्वारा बाढ़ सुरक्षा सप्ताह मनाये जाने से संबंधित दिशा-निर्देश जारी किया गया है। निर्देश में कहा गया है कि जिलों में प्रशिक्षित नौका सर्वेक्षकों एवं निबंधन पदाधिकारियों के सहयोग से नौकाओं का सर्वेक्षण एवं निबंधन का कार्य इस सप्ताह कराया जाय। बाढ़ के दौरान स्वच्छ पेयजल विषय पर जन जागरूकता का प्रचार-प्रसार होना चाहिए। सभी पखंड विकास पदाधिकारी, सभी अंचलाधिकारी एवं सभी अनुमंडल पदाधिकारी के साथ बाढ़ पूर्व तैयारी चेकलिस्ट के आधार पर तेयारी हेतु समीक्षा बैठक करना एवं यथानुसार निर्देश जारी किया जाय। अति बाढ़ प्रवण/अति संवेदनशील क्षेत्रों में एनडीआरएफ/एसडीआरएफ एवं सिविल डिफेंस एवं स्थानीय समुदाय तथा संस्था के सहयोग से बाढ़ सुरक्षा मॉकड्रिल का आयोजन किया जाय। सभी मुखिया, सरपंच के लिए बाढ़ पूर्व तैयारी हेतु पत्र जारी किया जाय। जिले में बहने वाली नदियों में डेंजर लेवल को चिन्हित कर इंडिकेटर लगाया जाय। बाढ़ पूर्व चेतावनी इंडिकेटर नदियों में लगाना आवश्यक है। इसके साथ ही बाढ़ राहत केन्द्र, ऊंचे स्थानों तथा संवेदनशील समूहों की पहचान भी किया जाय।जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है कि बाढ़ की स्थिति में क्या करें, क्या न करें का व्यापक प्रचार-प्रसार प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रोनिक मीडिया सहित सोशल मीडिया के माध्यम से कराना सुनिश्चित करेंगे। इसके साथ ही जागरूकता रथ, होर्डिंग्स, फ्लेक्स, दिवाल लेखन आदि का कार्य कराना सुनिश्चित करेंगे। जिलाधिकारी द्वारा जिले के माननीय जनप्रतिनिधियों से अनुरोध किया गया है कि बाढ़ सुरक्षा सप्ताह के तहत बाढ़ से बचाव हेतु क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए, के संदर्भ में अपने स्तर से लोगों को जागरूक किया जाय।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here