मझौलिया में शिक्षा सेवक और तालिमी मरकज कर्मियों ने समर कैम्प के बहिष्कार का लिया निर्णय। ग्रीष्मावकाश के बाद समर कैंप करने की मांग की।

0
541

मझौलिया से राजू शर्मा की रिपोर्ट…

बेतिया/मझौलिया। मझौलिया प्रखंड अंतर्गत बी .आर .सी भवन परिसर में टोला सेवक और तालीमी मरकज की एक बैठक हुई। बैठक के दौरान उन्होंने ग्रीष्मावकाश के दौरान बच्चों को दी जाने वाली समर कैम्प सहित अन्य मांगों को लेकर कर्मियों ने बहिष्कार किया। पत्रांक 837 दिनांक 13 मई 2023 निदेशक जन शिक्षा विभाग बिहार पटना के आदेशानुसार
ग्रीष्मावकाश का समर कैम्प का संचालन 1 जून 2023 से 30 जून 2023 तक किया जाना है। इस अवधि में सभी शिक्षा सेवक एवं शिक्षा सेवक तालीमी मरकज अपने अपने परिवार के साथ छुट्टी मनाना चाहते है। उन्होंने बताया कि इस अवधि में काफी गर्मी रहती है। विभाग के दोहरी नीति के कारण शिक्षा सेवको के बीच आक्रोश है। उल्लेखनीय है कि जहाँ 365 दिनों में बच्चे दक्ष नही हो पाते है तो क्या 30 दिनों में दक्ष हो जाएंगे। कर्मियों ने ग्रीष्मावकाश के बाद समर कैंप करने की मांग की। इस मौके पर अब्दुल कलाम अंसारी, इम्तियाज आलम, दीपक कुमार, लालबाबू महतो, सरफुलाह अंसारी, अच्छेलाल बैठा, अमित कुमार, रबिन्द्र माझी, बसंत माझी, रूबी खातून, रुआब्जा खातून, अंगूरी खातून, नूर नेशा, सिमा खातून, अफसाना खातून सहित अन्य शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here